पढ़ाई के स्ट्रेस को दूर करने में काम आएंगे ये साइंटिफिक तरीके

0 159

अमेरिकन साइकोलॉजिकल एसोसिएशन की एक ताजा रिपोर्ट के मुताबिक ज्यादातर स्टूडेंट्स तनाव का सामना करते हैं जिसका असर उनकी सेहत ही नहीं बल्कि ग्डरे ्स पर भी आता है। रिपोर्ट के अनुसार, स्ट्स से गुजर रहे स रे ्टूडेंट्स में से 30 फीसदी डिप्शन और रे निराशा का शिकार हो जाते हैं। देश में भी स्थिति गंभीर है। कई सर्वे यह दावा करते हैं कि स्टूडेंट स्ट्स के चलते रे हर 55 मिनट में एक स्टूडेंट आत्महत्या का रास्ता अपना लेता है। स्टूडेंट्स में इस स्ट्स रे की वजह कड़ी प्रतिस्पर्धा, एक्सट्राकरिकुलर का बढ़ता बोझ और अपने भविष्य को लेकर महत्वपरू फैसले लेने का दबाव है। ऐसे में ्ण इस स्ट्स से खुद को द रे र रखना स ू ्टूडेंट्स के लिए चैलेंजिंग होता जा रहा है। यहां कुछ साइंटिफिक तरीके हैं जिनकी मदद से आप तनाव से खुद को मुक्त रखकर कामयाबी हासिल कर सकते हैं।

तनाव को मैनेज करने के लिए 4A फॉर्मूला

तनाव को मैनेज करने के लिए आप 4A फॉर्मूला अपना सकते हैं। इसमें चार A अवॉइड, आॅल्टर, एडैप्ट व एक्सेप्ट है। जब भी ऐसी परिस्थिति हो जिसे बदला जा सके या जिसके रेस्पॉन्स को चेंज किया जा सके तो इन 4A को ध्यान में रखें। मसलन अगर आपको कम स्कोर की चिंता सता रही है तो आप ज्यादा मेहनत करके इस स्ट्रेस को अवॉइड कर सकते हैं। लेकिन पूरी मेहनत करने पर भी तनाव हो रहा हो तो आप अपनी भावनाओं को पेरेंट्स या टीचर्स के साथ शेयर करें। ऐसा करके आप स्थिति को बदल सकते हैं। जब अवॉइड और आॅल्टर करना संभव न हो तो स्थिति को अडैप्ट और एक्सेप्ट करना होगा। आज के तनाव को भविष्य की नजर से देखें और खुद से पूछें कि आने वाले समय में क्या आपका तनाव आपके लिए फायदेमंद होगा? अगर आपको इसका जवाब ना में मिले तो अपना समय और एनर्जी कहीं और लगाना बेहतर होगा।

प्रोग्रेसिव मसल रिलेक्सेशन (पीएमआर)

एग्जाम के दौरान स्ट्रेस को दूर भगाने का यह सबसे अच्छा तरीका है। इस तकनीक में आपको अपनी मसल्स को देर तक स्ट्रैच और रिलैक्स करना होता है जब तक कि आपकी बॉडी पूरी तरह रिलैक्स न हो जाए। यह तरीका आप बेहतर नींद के साथ- साथ एग्जाम के दौरान और पहले होने वाले तनाव को कुछ ही सेकेंड में दूर करने के लिए अपना सकते हैं।

विजुअलाइजेशन या मेंटल इमेजरी

विजुअलाइजेशन या मेंटल इमेजरी एक ऐसी स्किल है जिसने ओपरा विन्फ्रे, बिल गेट्स और जिम कैरी जैसी शख्सियतों को सफल होने में मदद की। स्ट्रेस दूर करने के लिए यह एक बहुत ही आसान और कारगर तकनीक है जिसकी मदद से आप तनाव के कारणों को दूर करके बॉडी को स्ट्रेस न लेने के लिए ट्रेन कर सकते हैं। इस टेक्नीक के लिए जरूरी है कि आप खुद को जिस परिस्थिति में देखना चाहते हैं उसकी कल्पना करें और उसमें यकीन करें। जब आप अपनी कल्पना में इसे अचीव करते हुए देखते हैं तो आपके दिमाग में कई परिवर्तन आते हैं और आप खुद को पहले से ज्यादा कॉन्फिडेंट और मानसिक रूप से तैयार पाते हैं। दिलचस्प बात यह है कि दिमाग के लिए हकीकत और कल्पना को अलग कर पाना मुश्किल होता है जिसकी वजह से एक विजुअलाइजेशन आपके नर्वस सिस्टम को स्टिमुलेट करके आपके ब्लड प्रेशर, ब्रीदिंग और हार्ट रेट को नॉर्मल रखने में मदद करता है और आपको स्ट्रेस की समस्या से दूर रखता है।
 

Subscribe to our newsletter
Sign up here to get the latest news, updates and special offers delivered directly to your inbox.

Leave A Reply

Your email address will not be published.